• 18.3K
  • 638
  •  
  • 70
  •  
  •  
  •  
    19K
    Shares

बाबा खाटू श्याम जी का फाल्गुन लक्खी मेला 2019


माटी का शरीर तेरा, एक दिन माटी में ही मिल जायेगा,
ले शरण बाबा “श्याम” की, तेरा जीवन सफ़ल हो जायेगा।।
।। जय श्री श्याम ।।


हाथों में ले श्याम ध्वजा, मन में ले विश्वास,
लो चल चले हम खाटू धाम, अब पूरे होगी आस।
।। जय श्री श्याम ।।


हारे का सहारा, खाटू श्याम हमारा।
।। जय श्री श्याम ।।


चन्दन हैं खाटू की माटी, अमृत यहाँ का नीर,
ये दोनों जिसको मिल जाए, बहुत बड़ी तकदीर।
।। जय श्री श्याम ।।


मिश्री भी फीकी लगे अब, फीको गुड़ को स्वाद,
श्याम से प्रीत हुई जबसे और चखों प्रेम को स्वाद।
।। जय श्री श्याम ।।






भाव भरे हों आँख में आँसू दर्द भरा हो तराना,
दीन दयालु रुक नहीं सकता, श्याम’ को पड़ता ही हैं आना।
।। जय श्री श्याम ।।


आरज़ू ये नहीं की सोना, चांदी, बांग्ला कार मिल जाए,
हम तो तेरे दीवाने हैं बाबा, तमन्ना हैं की बस तेरा आशीर्वाद मिल जाये।
।। जय श्री श्याम ।।


सांवरे अगर तेरा सहारा ना होता, तो सुन्दर संसार हमारा ना होता,
तूफानों की तबाही में गुम हो जाते, अगर सर पे हाथ तुम्हारा ना होता।।
।। जय श्री श्याम ।।


जब से पकड़ा तूने हाथ मेरा, ज़िन्दगी खुशहाल हो बन गयी,
दौलत मिली मुझे तेरे नाम की, तेरे प्रेमियों के बीच मेरी भी पहचान बन गयी।
।। जय श्री श्याम ।।


मेरे श्याम ना जाने कितनी मिठास हैं तेरे नाम मे,
सुबह-सुबह जो श्याम श्याम कह दिया, तो सारा दिन मुँह मीठा मीठा रहता हैं।
।। जय श्री श्याम ।।






मेरे तन से महकती है तेरी खुशबू, अपनी साँसोँ से हटाऊँ कैसे,
तेरी चाहत को पूजा है मैंने, तेरी सूरत से नजरे हटाऊँ कैसे
।। जय श्री श्याम ।।


लिखा तेरे मंदिर पे हारे का सहारा।
इसी नाम से बजता है डंका तुम्हारा।।
।। जय श्री श्याम ।।


रटता जपता वंदन करता,श्याम आप का कीर्तन करता
एक रोज़ वर्णन न काफी, इसलिए वंदन में रोज ही करता।।
।। जय श्री श्याम ।।


हम भी तेरी मोहनी मूरत दिल में छिपाये बैठे है ,
तेरी सुन्दर सी छवि आँखों में बसाये बैठेहै ।।
इक बार बांसुरी की मधुर तान सुनादे मेरे श्याम
हम भी एक छोटी सी आस जगाये बैठे है ।।
।। जय श्री श्याम ।।


बाबा तुमने अपनी आँखों में नूर छुपा रखा है,
होश वालो को दीवाना बना रखा है।।
नाज कैसे न करू तुम पर प्यारे,
मुझ जैसे नाचीज़ को ख़ास बना रखा है!!
।। जय श्री श्याम ।।






खाटू जब भी जाओगे, मन की मुरादे पाओगे।
सच्चा है दरबार श्याम का, भर के झोली लाओगे।।
।। जय श्री श्याम ।।


जयकारा खाटू वाले का, क्या से क्या कर देता है।
जो बोले उसके जीवन में, खुशीयाँ भर देता है।।
।। जय श्री श्याम ।।


हारे का ये साथी मेरा लखदातार है।
तीन बाण धारी श्याम, विष्णु का अवतार है।।
।। जय श्री श्याम ।।


हाथ जोड़कर विनती करू, है करुणामय बाबा श्याम…
सुख में , दुख मे , हर घडी जपु तुमारा नाम ।
।। जय श्री श्याम ।।


एक वक़्त ऐसा भी दो मुझे मेरे श्याम,
जिसमें मेरा मन बिलकुल खाली हो,
भर सकूँ मैं तेरी भक्ति उसमें,
सिर्फ तू ही उसका माली हो…
।। जय श्री श्याम ।।






लोग कहते है अगर हाथों की लकीरें अधूरी हों तो
किस्मत अच्छी नहीं होती
लेकिन सर पर हाथ हो मेरे श्याम का
तो लकीरों की जरूरत नहीं होती।
।। जय श्री श्याम ।।



  • 18.3K
  • 638
  •  
  • 70
  •  
  •  
  •  
    19K
    Shares

comments